बढ़ते कोरोना संक्रमण पर तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश सरकार की खामियों व लापरवाही के चलते बिहार में कोरोना ने भयानक रूप अख्तियार कर लिया है |

पटना: बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है | बिहार में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 20173 हो गयी है | इनमे से 6482 सक्रिय मामले हैं और 13533 लोग ठीक हो चुके हैं |

बिहार में अब तक कोरोना से 174 लोगों की मौत हो चुकी है |

कोरोना संक्रमण अब मुख्यमंत्री आवास समेत अन्य सरकारी कार्यालयों तक पंहुच चूका है | समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के अनुसार पटना स्थित गर्वनर हाउस में एक साथ 20 स्टॉफ कोरोना पॉजिटिव मिले पाये गये हैं | बिहार भाजपा के अध्यक्ष संजय जायसवाल भी कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं | वैसे बिहार में रिकवरी रेट प्रतिशत 67.08 है | बिहार में 31 जुलाई तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है |

बढ़ते कोरोना संक्रमण पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश सरकार की खामियों व लापरवाही के चलते बिहार में कोरोना ने भयानक रूप अख्तियार कर लिया है | उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा दफ्तर में लगातार वर्चुअल रैली का आयोजन करने से 100 में से 75 नेता कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं |

तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री आवास में परिजनों समेत 85 लोग संक्रमित हैं, उपमुख्यमंत्री के कई निजी लोग, शीर्ष मंत्री, सांसद, विधायक, वरीय अधिकारी के अलावा मुख्य सचिव, गृह सचिव, पुलिस मुख्यालय और सचिवालय के अनेक लोग कोरोना पॉज़िटिव पाये गये हैं. इस भयावह स्थिति के बीच चुनाव करवा कर वे क्या चाहते हैं? लोकतंत्र में जब “लोक” नहीं बचेगा तो “तंत्र” का क्या करियेगा? लोगों की जान बचाना जरूरी है, चुनाव तो आते-जाते रहेंगे?

ये सत्ताधारी न जाने कौन सी जमात के लोग हैं जिन्हें आम आवाम की जिंदगी की चिंता नहीं है? क्या ये लाशों के ढेर पर चुनाव चाहते हैं?

Comments